X
My Commerce Point
X
My Commerce Point
Type Here to Get Search Results !

7. राजस्थान के नागरिकों के लिए डिजिटल सेवा Notes

Translate English and Hindi

1. राजस्थान में ई-गवर्नेस (e-Governance in Rajasthan)

  • ई – गवर्नेंस में सूचना और संचार प्रौधोगिकी (Information and Communication Technology - ICT) का इस्तेमाल करके सरकारी सेवाओं को नागरिकों तक पहुंचाया जाता है।
    • G2C (Govt. to Citizen)
    • G2B (Govt. to Business)
    • G2G (Govt. to Govt.)
  • उद्देश्य
    • कुशल (effecient)
    • जवाबदेह (Accountable)
    • तेज (Faster)
    • पारदर्शी (Transparent)
  • लाभ
    • नागरिकों के लिए सूचना और गुणवत्ता सेवाओं तक बेहतर पहुँच।
    • सरकार में सरलता, कार्यक्षमता और जवाबदेही
    • शासन की विस्तारित पहुँच।

2. राजस्थान में ई –  गवर्नेंस के प्रमुख कार्यक्रम

  • राज नेट

    • LAN
    • SWAN
    • Broadband
    • Over-the-air
    • Satellite

  • राज मेघ – दी राजस्थान क्लाउड

    • SaaS -  Software as a Service
    • PaaS -  Platform as a Service

  • राज ई-वौल्ट 

    • एंड टू एंड डॉकयुमेंट मैनेजमेंट सिस्टम
    • दस्तावेजो व हल्फनामो की आवश्यकता नहीं 

3. इस अध्याय में निम्न को पढ़ना है

  • ई – मित्रा (e-Mitra)
  • भामाशाह योजना (Bhamashah Yojna)
  • राजस्थान संपर्क (Rajasthan Sampark)
  • ई – पब्लिक डिस्ट्रिब्यूशन सिस्टम (e-Public Distribution System – ePDS)
  • ज्योग्राफ़िकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम – राजधरा (Geographical information system - RajDhara)
  • भामाशाह स्वस्थ्य बीमा योजना (BSBY)
  • भामाशाह रोजगार सृजन योजना (BESY)

4. ई – मित्रा (e-Mitra)

  • स्थापना 2004
  • G2C और B2C सेवाए दी जा रही है।
  • ई मित्रा सेवा केंद्र एवं कियोस्क सार्वजनिक – निजी भागीदारी मॉडल पर चलाया जा रहे है।
  • उद्देश्य - 
    • सभी प्रकार की समस्त सेवा एक ही स्थान पर
    • महिलाओ को व्यावसायिक अवसर
    • सेवाओ को समयबन्द वितरण सुनिश्चित करना
    • लोगो के पैसे ओर समय की बचत होती है

5. सेवाओं की सूची (List of Service)

  • Website – https://emitra.rajasthan.gov.in
  • G2C
    • कर की सुविधा (आईटीआर की सुविधा)
    • जयपुर विकास प्राधिकरण 
    • MNREGA सेवाए
    • नगर निगम के देय शुल्क का भुगतान
    • पंचायती राज के कार्य
    • Lease of residential land
  • B2C
    • मोबाइल बिल भुगतान व रीचार्ज
    • ICICI Prudential Life Insurance
    • LIC Premium
    • डीटीएच रीचार्ज
    • डाक्टर की सेवा (Ask Me Doctor Service) etc

6. भामाशाह योजना (Bhamashah Yojna)

  • शुरुआत 2008
  • Direct benefit transfer
  • उद्देश्य:-
  • Financial Inclusion (वित्तीय समावेश)
  • Women Empowerment (महिला सशक्तिकरण)
  • Effective Service Delevery (प्रभावी सेवा वितरण)

  • नामांकन प्रक्रिया

    • Offline our online दोनों प्रकार से किया जा सकता है
    • जिसमे मुखिया का आधार और बैंक खाता अनिवार्य तथा अन्य परिवार के इसके साथ जोड़ा जा सकता है

  • भामाशाह मे जारी कार्ड

    • पारिवारिक कार्ड (Family Card)
    • व्यक्तिगत कार्ड (Individual Card)

7. राजस्थान संपर्क (Rajasthan Sampark)

  • जून 2014 में शुरुआत
  • राज्य के सभी सरकारी विभाग इसमे आते है
  • ये शिकायत (grievance) निवारण / निराकरण एक पारदर्शी व जवाबदेही वयवस्था प्रदान करने के लिए ।
  • किस प्रकार से शिकायत कर सकते है।
    • नागरिक कॉल सेंटर 181
    • वेब पोर्टल
    • विडियो संपर्क सुविधा
    • ई – मित्रा
    • आईटी विभाग से
  • शिकायत निवारण और निगरानी तंत्र प्रक्रिया
    • पंजीकरण (Registration)
    • मोडरेशन (Moderaton)
    • आबंटन (Allocation)
    • निराकरण (Disposal)
    • सत्यापन (Verification)

  • पंजीकरण (Registration)

    • नागरिक कॉल सेंटर 199
    • वेब पोर्टल
    • विडियो संपर्क सुविधा
    • ई – मित्रा
    • आईटी विभाग से
    • Note - इसमे शिकायत आईडी दी जाती है जिसका उपयोग अपनी शिकायत को ट्रैक, पुनः खोलने, feedback आदि के लिए उपयोग किया जाता है

  • मोडरेशन (Moderation)

    • शिकायत में दी हुई सम्पूर्ण विवरण की जांच करना महत्वपूर्ण है और उसे अमल मे लाना चाहिए

  • आबंटन (Allocation)

    • शिकायत संबन्धित अधिकारी को भेज दी जाती है।

  • निराकरण (Disposal)

    • इसमे शिकायत का समाधान किया जाता है जिसे दो वर्गो मे बाटा गया है 
      • Relief (राहत)
      • Reject (रिजैक्ट) 
    • उसके बाद परिवादी को एसएमएस के द्वारा समाधान की सूचना भेजना

  • सत्यापन (Verification)

    • डिस्पोसल (निराकरण) की गुणवत्ता को चेक करने के लिए 
    • शिकायत करता को उचित राहत मिली है या नहीं उससे कॉल के द्वारा पूछा जाता है।

8. ई – पब्लिक डिस्ट्रिब्यूशन सिस्टम (e-Public Distribution System – ePDS)

  • केंद्र व राज्य सरकार दोनों ने मिलकर
  • यह खाद्य की कमी से निपटने के लिए इसकी शुरुआत की गयी है।
  • इसे गरीबी उन्मूलन भी कहा जा सकता है।
  • यहा गरीब लोगो तक सस्ती दर (Minimum Support Price) से अनाज दिलाने ले लिए उचित मूल्य की दुकान (Fair Price Shop ) के माध्यम से पहुंचाया जाता है।
  • परिवार को इसके आधार पर दो श्रणी मे बाटा गया है।
    • APL (above Powerty Line)
    • BPL (Below Powerty Line)
    • State BPL
    • Antyodaya
  • FPS से मिलने वाला समान
    • गेहूं
    • चावल
    • चीनी और 
    • मिट्टी का तेल (केरोसिन)
  • ई-मित्रा से राशन कार्ड के लिए आवेदन करना
  • फार्म download करना – 
    • https://emitra.rajasthan.gov.in
    • https://food.raj.nic.in
  • फॉर्म को भरना और आवश्यक दस्तावेज़ लगाना और
  • नजदीकी ई – मित्रा पर जमा करा देना
  • आवेदन की रसीद प्राप्त करना

9. ज्योग्राफ़िकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम – राजधरा (Geographical information system - RajDhara)

  • यह गूगल मैप की तरह होता है 
  • 3D सिटी मॉडल को राजधरा के साथ एकीकृत किया जाएगा ताकि नागरिकों को 3D सिटी मॉडल वैबसाइट पर आसानी से दिखाया जा सके
  • GIS – Geographical Information System
  • GPS - ग्लोबल पोजीशनिंग सिस्टम 

10. भामाशाह स्वस्थ्य बीमा योजना (BSBY)

  • सिर्फ राजस्थान के नागरिकों के लिए 
  • आंतरिक रोगी विभाग (Indoor Patient Department - IPD) में रोगियों को नगद रहित (Cashless) सुविधा प्रदान करना है।
  • उद्देश्य:-
    • स्वास्थ्य सूचकांक को बहतर बनाना
    • नागरिकों के लिए बीमारी के समय अतिरिक्त खर्च की कमी से दूर करना
  • योजना के लाभ
    • जो NFSA सूची मे listed है उन्ही को इसका लाभ मिलता है।
    • सामान्य बीमारी के लिए 30,000 रु
    • गंभीर बीमारी के लिए 3,00,000 रु

11. भामाशाह रोजगार सृजन योजना (BESY)

  • राज्य के बेरोजगार युवाओ के लिए अपना खुद के रोजगार खोलने के लिए लोन दिया जाता है
  • पात्रता:-
    • रजिस्टर्ड बेरोजगार
    • महिला
    • शिक्षित महिला
    • SC / ST
    • विकलांग व्यक्ति
  • इस प्रकार के लोन पर सरकार ब्याज दर पर सब्सिडि देती है जो 4% तक होती है
  • ऋण चुकाने की अवधि 5 वर्ष या बैंक के प्रबन्धक द्वारा उसे 6 माह तक बढ़ाया जा सकता है
  • ऋण देने वाली बैंक:-
    • राष्ट्रीयकृत बैंक
    • सहकारी बैंक
    • क्षेत्रीय ग्रामीण बैंक